HomeRecipe

पानी में भोजन पकाने की सरल विधि

पानी में भोजन पकाने की सरल विधि
Like Tweet Pin it Share Share Email

पानी में भोजन बनाना

पानी में स्वादिष्ट और पौष्टिक भोजन आप बना सकती हैं। आपको यह अटपटा सा लगा होगा। लेकिन यह सच है। यह पचने में भी आसान रहता है। पानी में पका भोजन आपको हमेशा स्वस्थ तो रखता ही है, तेल-धी-के प्रयोग से आपको बचाता है। पानी में भोजन पकाने के कुछ आसान तरीके आप भी जानें। क बेसन में खट्टा दही, नमक, धनिया, लालमिर्च व जरा सा बेकिंग पाउडर डालकर कडा गूंध लें। इसके रोल बनाएं। अब एक गहरे बर्तन में आधे से अधिक पानी भरकर उबाल लें। फिर इसमें सारे रोल डाल दें। पकने पर ये रोल ऊपर तैरने लगेंगे। इन्हें बाहर निकालकर ठंडा कर लें और छोटे-छोटे गट्टे काट लें। अब दही को मथ लें और इसमें हल्दी, नमक, भुना-पिसा जीरा, मिर्च, गरम मसाला पाउडर आदि डाल लें। कडाही में दही सहित पकाएं। फिर गट्टे के टुकडे भी इसमें डाल दें। अब बिना तेल की सब्जी तैयार है।

पानी में विभिन्न तरह की सब्जी पकाने की सरल विधि 

  1. ऎसे ही पानी में लौकी के कोफ्ते बना सकते हैं। लौकी को कस कर उसका पानी निचोड लें। फिर इसमें बेसन, नमक, मिर्च, हरा धनिया आदि मिला लें। हाथ से दबाकर छोटे-छोटे कोफ्ते बना लें। खौलते पानी में कोफ्ते को डाल दें और पकने के बाद दही में डालकर सब्जी बनाएं। इसमें मसाले इच्छानुसार डाले।
  2. प्याज को घी में भूनकर प्याज व टमाटर को अलग-अलग उबालकर पीस लें। फिर इनसे सब्जी बनाएं।
  3. टिंडे में चीरा लगाकर मसाला भर लें। फिर उन्हें कुकर में रख दें। कुकर में आधा कप पानी डाल दें। एक सीटी के बाद ढक्कन खोल दें। यदि पानी रह गया है तो ढक्कन हटाकर आंच पर खुला ही पकाकर पानी सुखा लें। बिना तेल के इस भरवां टिण्डे की सब्जी को कोई भी खा सकता है।
  4. कुकर में भरवां लौकी भी बना सकती हैं, एक लौकी के दो टुकडे करें और छील कर लंबाई में एक चीरा लगाएं। उबले आलू, पनीर और मसाले आपस में मिलाकर लौकी मे भरें। फिर कुकर में पका लें, इसमें आधा कप Paani भी डाल दें।
  5. 500 ग्राम लौकी व दो टमाटर लें। कुकर में एक कप पानी के साथ लौकी के टुकडे व टमाटर, नमक डालकर पका लें। अब काली मिर्च व आधे नींबू का रस डालें। कटी हुई दो-तीन छोटा चम्मच पत्तागोभी भी डाल दें। इस स्वादिष्ट सूप को पीकर देखें। तेल की कोई जरूरत ही नहीं है।
  6. सूजी की इडली भी बिना तेल की बना सकती हैं। सूजी में दही, नमक व चुटकी भर खाने वाला सोडा डालें। इडली के सांचे में भरकर कुकर में Paani डालकर पका लें।
  7. आलू, कचालू, अरबी, शकरकंद, बैंगन आदि का भुर्ता भी Paani में उबालकर बिना भुने ही बना सकते हैं। तेल की कोई जरूरत ही नहीं
  8. ऎसे ही फूलगोभी, गाजर, बीन्स, मशरूम, मटर आदि सब्जियों को पहले नमक मिले पानी में एक उबाल देकर पका ले। फिर इसमें सूखे भुने हुए मसाले व नींबू मिलाकर सब्जियां बना सकते हैं जो स्वाद व पौष्टिकता में किसी भी तरह से कम नहीं होंगी।

भोजन बनाते समय सावधानी

    1. लौकी को कभी भी चाकू से न छीलें बल्कि चाकू से रगडकर छिलका हटाएं। इसके छिलकों में विटामिन व क्षार होता है। हो सके तो लौकी को बिना छीले ही सब्जी पकाएं।
    2. दालों व चनों को रातभर भिगोने के बाद पानी को न फेंकें बल्कि उस पानी में इन्हें उबालें। इसमें घुलनशील विटामिनों का लाभ आपको मिल जाता है।
    3. अधिकांश महिलाएं खाने में बेकिंग पाउडर का इस्तेमाल करती हैं जो खाद्य पदार्थ की पौष्टिकता को नष्ट कर देता है। राजमा या चने पकाते समय उसमें बेकिंग पाउडर न डालें उसमें मौजूद सारे विटामिन, विटामिन बी-कॉम्प्लेक्स नष्ट हो जाते हैं और राजमा या चना अपनी गुणवत्ता खो देता है।
  1. भोजन को अधिक लजीज बनाने के चक्कर में भूल से भी तेज मसालों का इस्तेमाल न करें। याद रखें, लजीज भोजन स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं होता है क्योंकि इससे भोजन का प्राकृतिक स्वाद नष्ट हो जाता है।
  2.  भोजन को बार-बार गर्म करना भी गलत आदत है। इससे विटामिन नष्ट हो जाते हैं।
  3. कभी भी पीतल के बर्तन में खट्टी चीजें न बनाएं। कोई भी खाना तलने के लिए घी या तेल इतना गर्म न करें कि उसमें से धुआं निकलने लगे क्योंकि इससे तेल या घी अपने प्राकृतिक गुण खो देते हैं और खाना गुणहीन बन जाता है।

Article Source :- http://www.aapkisaheli.com/

loading...
Loading...